स्वागत

Wednesday, June 1, 2011

वर्षों से मृत माने जा रहे अभिनेता राज किरण अटलांटा में मिले

फिल्म अभिनेत्री दीप्ति नवल ने पिछले महीने फेसबुक के जरिए अपने सह अभिनेता रहे मशहूर कलाकार राज किरण को खोजने की जो मुहिम शुरू की थी उसे अंजाम तक पहुंचाया है अभिनेता ऋषि कपूर ने। राज जीवित हैं और अमेरिका के अटलांटा में अपना इलाज करा रहे हैं। निर्माता-निर्देशक सुभाष घई की मशहूर फिल्म कर्ज में ऋषि कपूर ने राज किरन के पुनर्जन्म का किरदार निभाया था। राज किरण को हिंदी फिल्म जगत के ज्यादातर लोग मृत मान चुके थे और उनके सही सलामत होने की खबर पर फिल्म उद्योग ने खुशी जताई है।

सत्तर के दशक में कई हिट फिल्मों में काम करने वाले राज किरण के बारे में लोगों को हाल के दिनों तक कुछ पता नहीं था। कुछ अरसा पहले खबर ये भी आई थी कि राज किरण की मौत हो चुकी है। उनकी दिमागी हालत बिगड़ने का पहला किस्सा उनके स्टारडम के दिनों में ही तब सामने आया था, जब पुट्टपर्थी में सत्य साईं बाबा के आश्रम में उन्हें हिरासत में लिया गया था। वह तब बार-बार सत्य साईं के खिलाफ बातें किया करते थे और उन पर साईंबाबा की हत्या की कोशिश करने का आरोप भी लगा। राज किरण ने इसके बाद मुंबई के भायखला स्थित पागलखाने में लंबा वक्त गुजारा।

भायखला पागलखाने में ही हिंदी सिनेमा में उनके चंद शुभचिंतकों ने उनसे आखिरी मुलाकात की थी। बाद में हालत सुधरने के बाद राज किरण अमेरिका चले गए और वहां कुछ लोगों ने उन्हें न्यूयॉर्क में टैक्सी चलाते भी देखा। वहां से भी मे एक दिन एकाएक लापता हो गए। अभिनेता ऋषि कपूर भी दीप्ति नवल की तरह अरसे से राज किरण की तलाश में थे और हाल ही में अमेरिका की अपनी यात्रा के दौरान उन्होंने राज किरण के भाई गोविंद मेहतानी का पता तलाश कर उनसे मुलाकात की।

गोविंद ने ऋषि कपूर को बताया कि राज किरण जीवित हैं और अटलांटा के एक संस्थान में अपना मानसिक इलाज करा रहे हैं। राज किरण अपने इलाज के लिए आवश्यक रकम जुटाने के लिए इस संस्थान में ही काम भी करते हैं। सूत्रों के मुताबिक राज किरण की पत्नी और बेटे ने उन्हें उनके हाल पर बरसों पहले छोड़ दिया था और अपने भाइयों से मदद की आस में ही वह अमेरिका चले गए थे, लेकिन वहां भी उनका साथ किसी ने नहीं दिया।

ऩईदुनिया से बात करते हुए ऋषि कपूर ने कहा कि राज किरण को वह कभी भूल नहीं सकते और उनके बारे में मिली इस जानकारी ने उन्हें काफी परेशान भी किया है। वह राज के शीघ्र स्वास्थ्य लाभ की कामना करते हैं और ये भी चाहते हैं कि वह वापस हिंदी फिल्म जगत में लौटें। फिल्म निर्माता सुभाष घई के मुताबिक राज किरण की ये हालत शायद उन्हें अपेक्षित सफलता न मिल पाने की वजह से हुई। वह कहते हैं कि ग्लैमर जगत के इस पहलू को आमतौर पर नजरअंदाज कर दिया जाता है। राज की हालत के बारे में दुख जताते हुए घई ने उनके शीघ्र स्वास्थ्य लाभ की कामना की है(नई दुनिया,दिल्ली,1.6.11)।

दैनिक जागरण की रिपोर्टः
बॉलीवुड में 70 और 80 के दशक के मशहूर अभिनेता राज किरण इन दिनों अमेरिका के एक पागलखाने में हैं। यह पता लगाया है उनके करीबी दोस्त ऋषि कपूर ने। राज किरण ने ऋषि की सुभाष घई निर्देशित सुपरहिट फिल्म कर्ज में उनके पूर्व जन्म के किरदार को निभाया था। महेश भट्ट की फिल्म अर्थ में शबाना आजमी और उन पर फिल्माया गया गाना, तुम इतना जो मुस्करा रहे हो.. आज भी लोग गुनगुनाते हैं। वह पिछले एक दशक से गायब हैं। ऋषि कपूर और दीप्ति नवल जैसे उनके मित्रों को छोड़कर प्राय: सभी उन्हें मृत मान लिया था। दीप्ति नवल ने पिछले दिनों फेसबुक पर भी राज किरण को खोजने के लिए एक पोस्ट किया था। उन्होंने लिखा, खबर थी कि राज को न्यूयॉर्क में कैब चलाते हुए आखिरी बार देखा गया था। उसके बाद ऋषि कपूर ने अपने दोस्त को खोजने की ठान ली। एक फिल्म की शूटिंग के लिए अमेरिका गए ऋषि कपूर ने वहां राज किरण के भाई गोविंद मेहतानी से मुलाकात की। उन्होंने पूछा कि राज अचानक कहां गायब हो गए? मेहतानी ने ऋषि को बताया कि राज किरण की दिमागी हालत ठीक न होने की वजह से वह अटलांटा के मेंटल हॉस्पिटल में हैं। बताया जाता है कि राज की पत्‍‌नी और बेटा उन्हें छोड़कर चले गए और वह इस सदमे को बर्दाश्त नहीं कर पाए। पारिवारिक जीवन में आए दूसरे संकटों की वजह से भी राज अवसाद से घिर गए। परिवार के बाकी सदस्यों ने भी राज की देखभाल नहीं की, शायद इसकी वजह उनका इलाज महंगा था। ऋषि ने कहा, यह काफी हृदय विदारक है। लेकिन मुझे इस बात की खुशी है कि वह जिंदा हैं। उनके जीवित होने की खबरों के बीच फिल्म इंडस्ट्री में उन्हें वापस लाने की बातें कही जा रही हैं। निर्देशक सुभाष घई और महेश भट्ट ने कहा कि वह राज किरण को वापस लाने की कोशिश का हिस्सा बनने में खुशी महसूस करेंगे। दो दशक तक इस अभिनेता ने कागज की नाव, घर हो तो ऐसा, घर एक मंदिर, कर्ज, वारिस और अर्थ जैसी कई लोकप्रिय फिल्मों में काम किया है।

1 comment:

  1. मैंने न्यूज़ में देखा था, इतना बड़ा फिल्म एक्टर आज गुमनामी की जिंदगी क्यों जी रहा है कोई भी नहीं जानता !
    मेरी नयी पोस्ट पर आपका स्वागत है : Blind Devotion - अज्ञान

    ReplyDelete

न मॉडरेशन की आशंका, न ब्लॉग स्वामी की स्वीकृति का इंतज़ार। लिखिए और तुरंत छपा देखिएः