स्वागत

Thursday, May 19, 2011

टीवी पर बंद हो लता का मजाक: शिवसेना

शिवसेना ने टीवी सेंसरशिप के अपने एजेंडे को पुन: हवा दी है। इस बार पार्टी ने सभी टीवी चैनलों को फरमान जारी करते हुए कहा है कि उनके चैनलों पर आने वाले कॉमेडी सीरियलों में लता मंगेशकर का मजाक नहीं बनाया जाए।

शिव सेना की इकाई भारतीय चित्रपट सेना के अध्यक्ष अभिजीत पनसे की अगुवाई में पार्टी के एक प्रतिनिधिमंडल ने सोनी चैनल को इस संबंध में एक पत्र लिखा है। पत्र में चैनल पर प्रसारित होने वाले कॉमेडी शो ‘कॉमेडी सर्कस’ में मंगेशकर का मजाक बनाए जाने पर आपत्ति जताई है और तत्काल प्रभाव से उन एपिसोड पर रोक लगाने की मांग की है।

कार्यक्रम के प्रतिभागी सुदेश और कृष्णा ने सीरियल में मंगेशकर का मजाक बनाया था। पनसे ने कहा, ‘लता मंगेशकर भारतीय म्यूजिक इंडस्ट्री की आइकान हैं। भारत रत्न से सम्मानित व्यक्ति के खिलाफ हम ऐसी बेहूदी चीजें बर्दाश्त नहीं करेंगे।

फिलहाल यह चेतावनी केवल सोनी को ही दी गई है। लेकिन हम चाहते हैं कि दूसरे चैनल भी हमारी बात को समझें।’ साथ ही यह भी कहा कि अगर चैनल इन एपिसोडों पर रोक नहीं लगाता है तो उसे पार्टी अपने तरीके से समझाएगी।

मंगेशकर और शिवसेना का रहा पुराना रिश्ता:

लता मंगेशकर और शिवसेना के संबंधों का पुराना इतिहास रहा है। 90 के दशक में मंगेशकर ने खुद से शिव उद्योग सेना के लिए परफॉर्म कर धन इकट्ठा किया था। वहीं उनके भाई हृदयनाथ मंगेशकर 2009 में शिवसेना से जुड़े थे।

हालांकि इस बारे में पनसे ने कहा, ‘हमने यह मुद्दा इसलिए नहीं उठाया है क्योंकि उनसे हमारे रिश्ते अच्छे हैं। उनका अपमान करना देश के एक महान कलाकार का अपमान है(आलोक देशपांडे,दैनिक भास्कर,मुंबई,18.5.11)।’

1 comment:

न मॉडरेशन की आशंका, न ब्लॉग स्वामी की स्वीकृति का इंतज़ार। लिखिए और तुरंत छपा देखिएः