स्वागत

Friday, November 12, 2010

चार साल में 136 अरब रुपए का हो जाएगा भारतीय फिल्मोद्योग

भारतीय फिल्मोद्योग वर्ष 2014 तक बढ़कर 136.7 अरब रुपए का हो जाएगा। इससे उत्साहित सूचना-प्रसारण मंत्रालय गोवा में होने वाले अंतरराष्ट्रीय फिल्म महोत्सव में ‘फिल्म वित्त व्यवस्था’ पर विशेष सत्र आयोजित करने जा रहा है। इसमें देशी-विदेशी फिल्म फाइनेंसरों को भारतीय फिल्म उद्योग में पैसा लगाने के लिए प्रोत्साहित किया जाएगा। साथ ही उन्हें भारत में विभिन्न जगहों पर शूटिंग के लिए आमंत्रित किया जाएगा।

यह फिल्म महोत्सव गोवा में 22 नवंबर से 2 दिसंबर के बीच आयोजित होने जा रहा है। मंत्रालय को अगले चार साल में घरेलू फिल्म उद्योग के 9 फीसदी की दर से बढ़ने की उम्मीद है। इसके मुताबिक, इसका आकार वर्ष 2009 के 104.4 अरब रुपए के मुकाबले 2014 में 136.7 अरब रुपए तक बढ़ने का अनुमान है।


क्या होगा फायदा :
मंत्रालय का मानना है कि इस पहल से न सिर्फ फिल्म उद्योग में अपराध जगत का पैसा लगने से रोक लगेगी, बल्कि देशभर में सिंगल स्क्रीन सिनेमाघरों का डिजिटलीकरण संभव होगा, जिससे पायरेसी पर रोक लगाने में मदद मिलेगी। एक अधिकारी के मुताबिक, ‘जब नजदीकी सिनेमा हॉल में डिजिटल फिल्म कम कीमत पर उपलब्ध होगी तो लोग नकली सीडी खरीदने नहीं जाएंगे।’
(संतोष ठाकुर,भास्कर डॉटकॉम,12.11.2010)

No comments:

Post a Comment

न मॉडरेशन की आशंका, न ब्लॉग स्वामी की स्वीकृति का इंतज़ार। लिखिए और तुरंत छपा देखिएः